एफसीआई पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए मिलरों ने किया प्रदर्शन समाधान की मांग

0
51

महराजगंज (TV News India): जनपद महराजगंज के राईस मिलरों के द्वारा एफसीआई के जिम्मेदारों पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए राइस मिलरों ने शुक्रवार को जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन किया। जिसमे राइस मिलर्स कल्याण एसोसिएशन के बैनर तले पहुंचे राइस मिलरों का कहना रहा कि चावल को मानक के विपरीत बताकर एफसीआई डिपो में चावल की डिलेवरी नहीं ली जा रही है।

जिसके कारण ट्रक डिपो पर खड़े हैं और जिससे राईस मिल के मालिकों को आर्थिक चपत लग रही है।मिलरों का कहना है कि एफसीआई के जोगियाबारी व लोहरपुरवा दोनों डिपो का भी यही हाल है। धान क्रय केन्द्र से क्रय किए गए धान की हालिंग कर मिलर परिवहन ठेकेदार द्वारा एफसीआई डिपो जोगियाबारी व लोहरपुरवा सहित सिद्धार्थनगर के बर्डपुर में भेज रहे हैं। हर डिपो पर 40 से 50 ट्रकों की लंबी कतार लगी हुई है। चार से पांच दिनों बाद नंबर आने पर सीएमआर चावल को एफसीआई के लोग डैमेज बताकर रिजेक्ट कर दे रहे हैं।

मिलरों ने कहा कि ऐसा कुछ लोगों के दबाव में किया जा रहा है ताकि मिलरों को शोषित किया जा सके। लेकिन यही स्थिति रही तो महराजगंज के मिलर व परिवहन ठेकेदार कस्टम धान की कुटाई और लोडिंग न करने के लिए बाध्य हो जाएंगे। मिलरों ने जिला खाद्य व रषद बिभाग के अधिकारी को पत्रक भी दिया। अफसरों से मांग की कि तत्काल डिपो पर खड़े ट्रकों को अनलोड कराया जाय, ताकि हो रही आर्थिक चपत पर अंकुश लगे है।

रिपोर्ट- बजरंगी निगम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here