TV News India
Exclusive News राजनीति

पश्चिम बंगालः कैलाश विजयवर्गीय को भीड़ ने घेरा,

 कोलकाता(TV News India): भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट कर कहा है कि मुर्शिदाबाद जाने के दौरान एक जगह भीड़ ने उन्हें घेर लिया. इस बात की जानकारी उन्होंने ट्विटर के जरिए दी. ट्वीट में विजयवर्गीय ने कहा कि पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जाते हुए मुझे नवग्राम के पास मुस्लिमों की बड़ी भीड़ ने घेर लिया है. उन्होंने कहा कि मेरी गाड़ी के दोनों तरफ भीड़ जमा है. एसपी और डीजी फोन नहीं उठा रहे हैं. राज्य में किसी की जान सुरक्षित नहीं है.

कैलाश विजयवर्गीय ने ट्वीट किया, ”मुर्शिदाबाद जाते हुए मुझे नवग्राम के पास मुस्लिमों की बड़ी भीड़ ने घेर लिया है. मेरी गाडी के दोनों तरफ भीड़ जमा है. प्रशासन कोई सुनवाई नहीं कर रहा! SP और DG भी फ़ोन नहीं उठा रहे! पश्चिम बंगाल में अराजक सरकार के रहते कुछ भी हो सकता है! यहां किसी की जान सुरक्षित नहीं है!”
अमित शाह को टैग करते हुए किया ट्वीट

एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, ”मुर्शिदाबाद जाते हुए नवग्राम के पास मुस्लिमों की भीड़ ने रिक्शा सामने खड़ाकर हमारा रास्ता रोक दिया. भीड़ की उग्रता देखकर लगता है कि इन्हें भड़काकर हमारे खिलाफ किया गया है. प्रशासन की लापरवाही इससे नजर आती है कि कोई फोन तक नहीं उठा रहा!”
जिस समय कैलाश विजयवर्गीय भीड़ के बीच घिरे हुए थे उस दौरान उनके सामने सैकड़ों की सख्या में मौजूद लोग बीजेपी हटाओ, भारत बचाओ के नारे लगा रहे थे. भीड़ को देखते हुए उन्होंने गृह मंत्री अमित शाह को टैग करते हुए एक ट्वीट किया.

भीड़ ने की पुलिस के साथ धक्का-मुक्की

इस दौरान सुरक्षा तैनात पुलिसकर्मी जब रिक्शे को हटाने पहुंचा तो वहां मौजूद भीड़ भड़क गई. इस दौरान भीड़ में मौजूद लोगों ने सुरक्षा बलों के साथ धक्का-मुक्की की. लोग कैलाश विजयवर्गिय की ओर बढ़ रहे थे इस दौरान वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें रोक दिया.
कैलाश विजयवर्गीय ने जब पुलिस ऑफिसर से देर से आने को लेकर सवाल पूछा. जवाब में अधिकारियों ने कहा कि इस इलाके में नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर पहले से हंगामा चल रहा है ऐसे में उन्हें इस रास्ते से नहीं आना चाहिए था.

ट्वीट कर बताया- मैं सुरक्षित हूं

वहां से निकलने के बाद बीजेपी नेता ने ट्वीट कर कहा, ”हम जिस भी रास्ते से गुजर रहे हैं, वहां पुलिसवालों ने ममता बनर्जी के कहने पर ट्रकों से जाम लगा दिया है. बिना किसी कारण के लम्बी-लम्बी लाइनें लगी है. ड्राइवरों को ट्रकों से उतारकर भगा दिया गया है, ताकि जाम जल्दी न खुले! पूरी साजिश नजर आ रही है.”
मुर्शिदाबाद पहुंचने के बाद उन्होंने लिखा, ”दिनभर की जद्दोजहद के बाद शाम को मैं मुर्शिदाबाद पहुंच गया! मैं बिलकुल सुरक्षित और ठीक हूं! लेकिन, यदि अमति शाह, गृह मंत्रालय और स्थानीय प्रशासन को सचेत नहीं करते तो आज कुछ भी हो सकता था! आज हमारे रास्ते में हर तरह की अड़चनें डाली गईं!”

:-ब्यूरो न्यूज़ 

Related posts

समाजसेवी-कर्मवीर भाऊराव पायगोंडा पाटिल (जन्मदिन पर विशेष)

tvnewsadmin

भारत नेपाल सीमा की प्रमुख 10 बॉर्डर 16 अक्टूबर को खोलने की प्रस्ताव को नेपाल सरकार ने दिखाई हरी झंडी

tvnewsadmin

महराजगंज: जिले के नवागत एसपी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर भयमुक्त समाज बनाने का किया वादा।

tvnewsadmin

Leave a Comment