सीएए के खिलाफ इस्लाम धर्म से जुड़े लोगों ने निकाला जुलूस,हाथों में तख्तियां लेकर इसे काला कानून बताकर वापस लेने की कर रहे थे मांग।

0
16

TV NEWS INDIA (नवादा) : शुक्रवार को इस्लाम धर्म से जुड़े लोगों ने सी ए ए कानून के खिलाफ नवादा शहर में प्रदर्शन किया। विभिन्न टुकड़ियों में बटें इस्लाम धर्म से जुड़े लोगों ने शहर में प्रदर्शन करते हुए केंद्र सरकार की नई सीएए कानून को काला कानून बताते हुए इसे वापस लेने की मांग कर रहे थे । कुछ लोग नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ भी नारेबाजी कर रहे थे। वहीं कुछ लोग *लेकर रहेंगे आजादी* *हिंदुस्तान जिंदाबाद* *पाकिस्तान मुर्दाबाद* के नारे भी लगा रहे थे । इन टुकड़ों में बटे जुलूसों में खास बात यह रही कि सारे लोग हाथों में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लेकर चल रहे थे। और अपनी आजादी की बात कर रहे थे। जुलूस शहर के अंसार नगर मुहल्ले से निकलकर मेन रोड होते हुए विजय बाजार, कलाली रोड होकर पुनः सद्भावना चौक पर पहुंच गई । सद्भावना चौक को 2 घंटे से अधिक समय तक जाम रखा । शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहे लोगों ने हाथों में विभिन्न नारों की तख्तियां लगाए थे । जुलूस में छोटे छोटे बच्चे भी शामिल थे । सभी सिर्फ काले कानून का विरोध की बात कर रहे थे। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम को देखते हुए जिला प्रशासन की ओर से जगह-जगह पर पुलिस बल की बंदोबस्ती गई थी । जिलाधिकारी कौशल कुमार, पुलिस अधीक्षक हरिप्रसाद एस, एसएसपी अभियान कुमार आलोक, एसडीओ अनु कुमार, एसडीपीओ विजय कुमार झा, प्रखंड विकास पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार , सीओ अभय कुमार के साथ-साथ विभिन्न दंडाधिकारी व पुलिस बल जगह-जगह तैनात रहे। अपर समाहर्ता श्रीमती साहिला भी इस मौके पर विधि व्यवस्था का निरीक्षण करते देखी गई । शांतिपूर्ण प्रदर्शन में मो मसीह उद्दीन, मोहम्मद नेजाम खान सहित बड़ी संख्या में लोग शामिल थे । सारे लोग खुद को हिंदुस्तानी बताकर हिंदू मुस्लिम भाई भाई का नारा भी दे रहे थे। मसीहउद्दीन के साथ चल रही टुकड़िया *हम लेकर रहेंगे आजादी* *देनी होगी आजादी* के नारे लगा रहे थे। सारी विधि व्यवस्था को प्रशासन की ओर से कैमरे में कैद किया जा रहा था । कहीं से भी तोड़फोड़ की सूचना नहीं है। प्रशासन इस जुलूस के बाद राहत की सांस ली है । शनिवार को राष्ट्रीय जनता दल की और से बिहार बंद का आह्वान किया गया है। राष्ट्रीय जनता दल के बिहार बंद को देखते हुए नवादा में भी प्रशासन पूरी तरह मुस्तैद है। किसी भी संभावनाओं से निपटने की तैयारी प्रशासन द्वारा की गई है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here