TV News India
कानूनी सलाह क्षेत्रीय समाचार महराजगंज

महराजगंज: घोटाला- मनरेगा मजदूरी में लाखों का गमन 20 दिन बाद भी नहीं दर्ज हुआ मामला, निचलौल वी.डि.यो B.D.O सवालों के घेरे में !

(TV NEWS INDIA)महाराजगंज:निचलौल विकासखंड के ग्राम पैकौली कला में मनरेगा मजदूरो की मजदूरी को खाता बदल कर ग्राम प्रधान और उनके रिश्तेदारों द्वारा गमन करने का सनसनीखेज मामला सामने आने के बाद जिले के आला अधिकारियों ने इस मामले में लिप्त सभी लोगों पर मुकदमा दर्ज कराने का आदेश खंड विकास अधिकारी को दिया है, अब देखना है कि खंड विकास अधिकारी इस मामले में क्या कर रहे हैं।

ग्राम पैकौली कला निवासी रितेश पांडे ने पिछले दिनों जिले के आला अधिकारियों को शिकायत किया कि मनरेगा योजना के तहत मजदूरों के खाता की जगह ग्राम प्रधान अरविंद कुमार मिश्रा स्वयं और अपनी पत्नी पूनम मिश्रा आंगनबाड़ी कार्यकत्री सहित अपने रिश्तेदारों सहित लगभग 60 से 70 लोगों के बैंक खातों को मजदूरी के खातों के जगह फीड करा कर लाखों रुपए निकाल लिया गया, एक ही मजदूर के दो अलग अलग जाबकार्ड बना एक ही दिन दोनो पर मजदूरी की गयी, इस तरह मनरेगा मजदूरी की कई अन्य शिकायत भी थी, इस शिकायत पर जिले के आला अधिकारियों ने जाँच के लिये 5 सदस्यो की टीम का गठन किया, जांच में आरोप सत्य पाया गया कि मनरेगा मजदूरों के खातों को बदल कर लाखों रुपए का घोटाला किया गया है, ऐसे में 26 सितंबर 2020 उपायुक्त (श्रम रोजगार) महराजगंज ने खंड विकास अधिकारी निचलौल को पत्र लिखा कि सरकारी धन को गबन करने वालों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करवाते हुए रिकवरी कराई जाए।

वही खंड विकास अधिकारी ने इस मामले में 7 अक्टूबर को तीन ग्राम पंचायत सचिव, तीन तकनीकी सहायक और ग्राम प्रधान सहित कुल 7 लोगों को नोटिस जारी किया, जिसमे उन्होंने गबन का हिस्सा भी बांट दिया को किसको कितना रुपया वापस जमा करना है और एक पत्र जारी किया कि आप लोग गमन के रुपयों को जमा कर दें अन्यथा आप पर मुकदमा दर्ज की जाएगी।
इस संदर्भ में शिकायतकर्ता रितेश पांडे ने कहा कि इस मामले में लगभग 60 से 70 लोगों पर गबन का मुकदमा दर्ज होगा, क्यो की 60 से 70 मनरेगा के मजदूरों के खाता को बदल दिया गया और उन की मजदूरी को अपने खाता में मंगवा लिया गया, गबन के आरोपी वह सभी है, ऐसे में इन सभी पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए, जिन्होंने मनरेगा योजना के तहत मजदूरों के खातों को बदल कर अपना खाता लगाकर सरकारी धन का गबन किया है।

वैसे जिले के आला अधिकारियों के पत्र लिखे 18 दिन गुजर गए लेकिन अब तक कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है, ऐसे में अब खंड विकास अधिकारी पर सवाल उठता है कि क्या वह सरकारी धन गबन करने वालों पर मुकदमा दर्ज कराएंगे या फिर यही मामले को मैनेज कर दिया जाएगा।
इस संदर्भ में रितेश पांडे ने कहा कि गबन में वह सभी लोग आएंगे जिनके खातों में पैसा भेजा गया है क्योंकि मनरेगा मजदूरी कोई और किया और लगभग 60 से 70 लोगों की मजदूरी इन खातों में भेज दी गई और इन लोगों ने सरकारी धन को निकाल लिया, ऐसे में नियमानुसार उन सभी लोगों पर मुकदमा दर्ज होना चाहिए जिन्होंने सरकारी धन गबन के खेल को खेला है अब देखना है खंड विकास अधिकारी इस मामले में क्या कर रहे हैं मामले को मैनेज कर रहे हैं या फिर गबन करने वालों पर मुकदमा दर्ज करवाने करवा रहे हैं।

(TV NEWS INDIA)
रिपोर्ट शिवांशु मिश्रा
महराजगंज उत्तर प्रदेश

Related posts

महराजगंज :हरदी डाली में चोरों के हौसले बुलंद लगातार तीसरी बार दुकान तोड़ हज़ारों की चोरी ।

tvnewsadmin

उ.प्र. उद्योग व्यापार मंडल सदस्यता अभियान

tvnewsadmin

महराजगंज: हर्सो उल्लास से मनाया गया 72 वां गणतंत्र दिवस !

tvnewsadmin

Leave a Comment