दुबई से लौटे युवक को बदमाशों ने लुटा, पुलिस से मुठभेड़ में गिरफ्तार

दुबई से कमाकर आ रहे युवक को निचलौल क्षेत्र में लूटने वाले बदमाश को उसके साथी संग पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर सोमवार को जेल भेज दिया। बदमाश बाराबंकी का रहने वाला है। कोठीभार क्षेत्र के साथी के साथ उसने लूट की वारदात को अंजाम दिया था। बदमाश के पास से लूटा गया सामान, 25 दिरहम (दुबई की मुद्रा) के अलावा तमंचा, चाकू व दो किलो गांजा बरामद हुआ है।

पुलिस कार्यालय में सोमवार शाम एसपी प्रदीप गुप्ता ने मुठभेड़ का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि 15 फरवरी को बलराम पुत्र गोरखनाथ निवासी घोड़हवा थाना परसामलिक, महराजगंज विदेश से घर लौट रहा था। लखनऊ में उसने सद्दाम टूर एंड ट्रेवल्स की गाड़ी बुक की थी। लखनऊ से घर आते वक्त शिकारपुर में ड्राइवर ने एक अज्ञात व्यक्ति को अपना रिश्तेदार बताकर गाड़ी में बैठा लिया और रास्ता भटकते हुए बैठवलिया गांव के पास आकर नहर के किनारे चाकू के बल पर बलराम को लूट कर फरार हो गया था। निचलौल पुलिस ने लूट का केस दर्ज कर जांच शुरू कर की। सोमवार को निचलौल थाना के प्रभारी निरीक्षक निर्भय कुमार सिंह को सूचना मिली कि लूट करने वाला बदमाश लूट का माल लेकर बोलेरो से गेड़हवा की तरफ आ रहा है और खड्डा की तरफ जाने वाला है।

इस पर प्रभारी निरीक्षक निर्भय सिंह, एसआई मदन मोहन मिश्रा, जितेन्द्र यादव व बृजेश कुमार सिंह के अलावा हेड कांस्टेबल सुभाष भारती, शिवानंन्द सिंह, प्रदीप सिंह, बृजेश यादव के साथ दो टीमें बनाकर गेड़हवा के पास पहुंचे। उसी दौरान एक गाड़ी आती दिखाई दी। रोकने की कोशिश में वाहन में सवार एक बदमाश पुलिस टीम पर फायर कर भागने लगा मगर पुलिस ने उसे घेर कर पकड़ लिया।

पूछताछ में उसने अपना नाम रामू उर्फ उदयभान सिंह पुत्र लल्लन सिंह बताया। वह ददौरा रानी बाजार, थाना रामनगर, जनपद बाराबंकी का निवासी है। अजयनगर थाना चिनहट जनपद लखनऊ में रहता है। तलाशी में उसके पास से चाकू व अन्य लूट का सामान बरामद हुआ। दूसरे आरोपित ने अपना नाम धीरज कुमार पुत्र दीपराज प्रसाद बताया। वह रामपुरवा थाना कोठीभार, महराजगंज का निवासी है। उसके पास से कट्टा व फायर कारतूस बरामद हुआ। गाड़ी से दो किलो ग्राम गांजा भी बरामद हुआ। दोनों के खिलाफ पहले से दर्ज केस में 307 आदि कुछ धाराएं बढ़ाकर जेल भेज दिया गया।