कच्चे तेल की कीमतों में आई गिरावट, पेट्रोल-डीजल की भी घट सकती हैं कीमतें

बिजनेस (TV News India): अंतरराष्ट्रीय कच्चे तेल की कीमतों में भारी गिरावट आई है। पिछले 15 दिनों में इसमें 10% की कमी हुई है। इस वजह से देश में सरकारी तेल कंपनियां पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कमी कर सकती हैं।

जानकारी के मुताबिक कच्चा तेल यानी क्रूड ऑयल इस समय 64 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया है। यह इस महीने की शुरुआत में 71 डॉलर प्रति बैरल था। कच्चे तेल की कीमतों में कमी कमजोर मांग और रिकवरी की वजह से आई है। यूरोपियन शहरों में कोरोना के बढ़ते मामलों में से प्रतिबंध और लॉकडाउन फिर शुरू हो रहा है। तेल की कीमतें हाल के समय में हालांकि काफी बढ़ गई थीं। ऐसा इसलिए क्योंकि तेल उत्पादक देशों ने अप्रैल तक सप्लाई कट करने का फैसला किया था। उस समय वैक्सीन के आने और पूरी दुनिया में इसके पहुंचने से तेल की कीमतों को बढ़ाने में मदद मिली थी। साथ ही अमेरिका के राहत पैकेज ने भी इसमें मदद की।

विश्लेषकों के मुताबिक, उधर कुछ बड़ी अर्थव्यवस्थाओं ने फिर से कुछ शहरों में लॉकडाउन लगाने की शुरुआत कर दी है। इससे मांग में गिरावट आने के आसार हैं। इसका सीधा दबाव तेल की कीमतों पर दिखेगा। कच्चे तेल की गिरती कीमतों के कारण देश में तेलों की कीमतें कम हो सकती हैं। चूंकि आने वाले समय में कुछ राज्यों के विधानसभा चुनाव भी हैं। इसलिए इसकी संभावना ज्यादा है कि कीमतें घट जाएं।