मदरसे में जबरन नहीं लगवाए गए ‘जय श्री राम’ के नारे, पुलिस का खुलासा

0
144

उत्तरप्रदेश (TV News India): उत्तर प्रदेश के उन्नाव में मदरसों में छात्रों से जय श्री राम के नारे लगवाने को लेकर पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है। पुलिस ने कहा कि उन्नाव में कोई नारे नहीं लगवाए गए थे। बल्कि बच्चों की खेलते हुए लड़ाई हुई थी, जिसके कारण तनाव पैदा हुआ। जय श्री राम के नारे लगवाने की ख़बर माहौल बिगाड़ने के लिए फैलाई गई।

एडीजी लॉ पीवी राम शास्त्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि मदरसों में छात्रों से जबरन जय श्री राम के नारे नहीं लगवाए गए। कुछ अराजक तत्वों ने माहौल को बिगाड़ने की कोशिश की है। उन्होने कहा कि इस अफवाह के चलते मेरठ, अलीगढ़ और कानपुर में भी हिंसा फैलाने की कोशिश की गई, लेकिन पुलिस प्रशासन तनाव पर रोक लगाने में कामयाब रहा।

पुलिस ने बताया, जांच में पाया गया कि 11 जुलाई को क्रिकेट खेलते हुए दो पक्षों में हंगामा हो गया था। इस दौरान हाथापाई भी हुई, लेकिन पुलिस ने मामले को शांत कर लिया।

वहीं, इस मामले पर जामा मस्जिद के मौलाना का आरोप है कि कुछ लोगों ने क्रिकेट खेल रहे छात्रों को ‘जय श्रीराम’ बोलने के लिए कहा। जय श्री राम नहीं बोलने पर उपद्रवियों ने पहले छात्रों के साथ बदसलूकी की। इसके बाद बच्चों पर पथराव किया गया। उनका कहना है कि हिंसा करने वालों की फेसबुक प्रोफाइल से पता लगा कि ये बजरंग दल से जुड़े हुए हैं। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here