फर्जी आईपीएस बन कर लोगो से नौकरी दिलाने के नाम पर करता था ठगी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

0
303

क्षेत्रीय समाचार (TV News India): रक्सौल शहर के कॉलेज रोड निवासी प्रकाश मिश्रा नामक युवक को पुलिस ने फर्जी आईपीएस बन कर ठगी करने के आरोप में गिरफ्तार कर जांच व कार्रवाई शुरू कर दी है।बतादें की जिले के मोतिहारी नगर थाना की पुलिस ने मीना बाजार चौक के पास स्थित एक आवासीय होटल में छापेमारी कर एक फर्जी आइपीएस अधिकारी को गिरफ्तार किया। उसके पास से आइपीएस का फर्जी आइकार्ड, आधार कार्ड व दो सेलफोन जब्त किया गया है। गिरफ्तार फर्जी आइपीएस अधिकारी रक्सौल थाना के कौडि़हार चौक का निवासी प्रकाश कुमार मिश्रा है। वह लोगों से नौकरी के नाम पर ठगी करता था। अबतक प्रकाश ने कई लोगों से लाखों की ठगी की है। पुलिस उसकी निशानदेही पर छापेमारी कर रही है।

पुलिस निरीक्षक अभय कुमार ने बताया कि रविवार की रात गिरफ्तार बदमाश ने अबतक दो दर्जन युवकों से नौकरी के नाम पर तीस लाख की ठगी की है। दर्जनों युवकों को अपना शिकार बनाया है। इस मामले में पताही थाना के रूपनी गांव निवासी शिवम कुमार ने नगर थाना में आवेदन देकर कहा है कि उससे गार्ड के पद पर नौकरी दिलाने के नाम पर 20 हजार रुपये की ठगी की गई थी। नौकरी कराकर उसे वेतन नहीं दिया गया था।

बताया गया कि प्रकाश पहले बाजार इंडिया में गार्ड की नौकरी करता था। बाद में नौकरी छोड़कर उसने अपना नेटवर्क नेपाल से लेकर बिहार के कई जिलो में फैलाया। गिरोह के कई अन्य सदस्यों के बारे में भी जानकारी मिली है। उनकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। छापेमारी टीम में पुलिस निरीक्षक के साथ दारोगा आरके सिंह भी शामिल हैं। वही पुलिस के समक्ष दिए बयान में प्रकाश ने स्वीकार किया है कि उसने शिवम व मुत्युजंय के अलावा कई युवकों से ठगी की है। शिवम व मुत्युजंय को गार्ड की नौकरी भी दिलाई। 45 दिन काम कराने के बाद उन दोनों युवकों को वेतन नहीं मिला। इसके अतिरिक्त उसने अपने परिवार के बारे में भी जानकारी दी है।

इस बारे में मोतिहारी नगर थाना पुलिस निरीक्षक अभय कुमार ने बताया कि फर्जी आइपीएस बनकर लोगों को ठगनेवाले युवक से कई अहम जानकारी मिली है। जल्द ही पुलिस पूरे गिरोह के लोगों को गिरफ्तार कर लेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here